काठ Kath Hindi Lyrics – Arjan Dhillon | Lyrics Recorder

0
621
views
Kath Hindi Lyrics, Kath Lyrics, Kath song Lyrics

Kath Hindi Lyrics – Kath is the latest Punjabi song sung by Arjan Dhillon. The lyrics were penned by Arjan Dhillon while the music was composed by MXRCI.

Song Credit – 

  • Song Title: Kath
  • Singer: Arjan Dhillon
  • Lyrics: Arjan Dhillon
  • Music: MXRCI
  • Music Label: Brown Studios

Kath Lyrics in Hindi

ओह पाहे खाटेयान च कड़े नही औकात डससडे
पिंडों तुर्रन लोकी चढ़’दी बारात डससडे
खाटेयान च कड़े नही औकात डससडे
पिंडों तुर्रन लोकी चढ़’दी बारात डससडे

हो वैल्लियान नू उमरन दी कठ डससडे
केह्ंदे बहलेयन तों 26’मा नि जनदा टप्पेया

सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

ज्योंदेया तों लगदी आए महफिलां बिल्लो
मारे उत्ते लगने आ मेले बल्लीए
ज्योंदेया तों लगदी आए महफिलां बिल्लो
मारे उत्ते लगने आ मेले बल्लीए

नि यार खट्टे प्यार दिलदार खट्टे आ
ना ही उस्ताद ना ही चैले बल्लीए

ओह जम्मेया नि कोई गॉल मैनउ अज्ज वे
जम्मेया नि कोई गॉल मैनउ अज्ज वे
ओह रब चक्कु जिद्दे सादा टाइम चक्केया

सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो रह जुगा नाम भवें आप ना रहान
होन्न गियाँ गल्लां बिल्लो गॉल गॉल ते
ओह टैनउ दीतता दिल बिल्लो तेरा ही राहु
डॅस कहदा दावा आए पिंडे दी खाल ते

ओह जंदी वारी होवे अंखँ मुहरे सोहनिए
जंदी वारी होवे अंखँ मुहरे सोहनिए
हो सादे दिल दी देवरी होर कों टप्पेया

सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो मिनिट च बज्ज जान मच के बिल्लो
कागज़न दे वरगी तासीर नि मेरी
ओह तेरा अर्जन दुखड़ा आए धुनि वरगा
टाइम भवें लाग्गे पर धौंदा नि ढेरी

बढ़ौड़ बाहदौड़ तां करके जौगा
बढ़ौड़ बाहदौड़ तां करके जौगा
होर सादा दुनिया ते की रखेया

सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

हो सिवेयन नू जनदा कठ डाससुगा कूड़े
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया
गबरू ने ज़िंदगी च की खट्तेया

More Related Lyrics

Watch Full Music Video Kath

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here