मैं बस कहती नही Main Bas Kehti Nahi Hindi Lyrics – King

0
411
views
Main Bas Kehti Nahi Lyrics, hindi lyrics, Kinga

Main Bas Kehti Nahi lyrics in Hindi,  Song is sung by King. The Song lyrics were penned down by King and the music was composed By Section8.

Song Credit –

  • Song: Main Bas Kehti Nahi
  • Album: The Gorilla Bounce
  • Singer: King
  • Lyrics: King
  • Music: Section8
  • Label: King

Main Bas Kehti Nahi Lyrics in Hindi

करती रहती इंतेज़ार तेरा
तुझको ना शरम आती है
ना हया आती है

उपर से इतना है कठोर
तुझको बातें ना नरम आती है
ना दया आती है

दिल से खेलने का है शोक़् बड़ा
कल रात पूरी तू बहुत लड़ा
मैं किससे कहूँ
के तू पहले जैसा नही

मेरी ग़लतियाँ तो तू देखे बड़ा
खुद ग़लतियों पे तू पूरा खड़ा
मैं किससे कहूँ
के तू बात सुनता नही

कब कहाँ जाता है
जो बताता नही
वो भी पता है
मैं बस कहती नही

चेहरा उतरा हुआ
अब हसता नही
कैसी सज़ा है
मैं बस कहती नही

आख़िरी बार
कब ठीक से की थी बात
इसको पूछो कोई
मानता ही नही

उपर से बनता अंजान
जैसे मुझको तो यह
जानता ही नही

झूठ से खेलने का है शौक बड़ा
खुद वादियों में तू पहुच गया
मैं किससे कहूँ
तू मेरे साथ चलता नही

तुझपे ज़ोर मेरा अब चलता कहाँ
मुझे दर है कहीं तू छ्चोड़ गया
मैं किससे कहूँगी
तू मुझको ही समझता नही

कब कुछ कहता नही
कब सब कह जाता है
यह भी पता है
मैं बस कहती नही

रिश्ता रूठा हुआ
अब मानता नही
कैसी रज़ा है
मैं बस कहती नही

आए तुझे कुछ पता तेरे बिना
कैसा बीता मेरा पल है
एक हफ्ते से तेरी ना खबर
बता कहाँ आज-कल है

तू मुझको भेज कोई जवाब
मेरा दिन बॅन जाएगा
तू खुद से बात करता नही
क्या मेरा फोन उठाएगा

ओ तुझको खेलने का है शौक बड़ा
मैं ज़ख़्म देखूं तू कर्दे माना
सब देख रहे
के तेरा घाव च्छुपता नही

तुझपे ज़ोर मेरा अब चलता कहाँ
मुझे दर है कही तू छ्चोड़ गया
मैं किससे कहूँगी
तू मुझको ही समझता नही

अब बता मुझको यह
अपनी चोटों से भी कोई बचा है
तू बस कहता नही

दिल है टूटा हुआ
यह तुझे भी पता
मुझको बुला ले
खुद सब सहते नही

कब कहाँ जाता है
जो बताता नही
वो भी पता है
मैं बस कहती नही

चेहरा उतरा हुआ
अब हसता नही
कैसी सज़ा है
मैं बस कहती नही

More Related Lyrics

Watch Full Music Video of Main Bas Kehti Nahi Song

Main Bas Kehti Nahi Lyrics

Karti Rehti Intezaar Tera
Tujhko Na Sharam Aati Hai
Na Haya Aati Hai

Upar Se Itna Hai Kathor
Tujhko Baatein Na Naram Aati Hai
Na Daya Aati Hai

Dil Se Khelne Ka Hai Shoq Bada
Kal Raat Poori Tu Bahut Lada
Main Kisse Kahun
Ke Tu Pehle Jaisa Nahi

Meri Galtiyan Toh Tu Dekhe Bada
Khud Galtiyon Pe Tu Poora Khada
Main Kisse Kahun
Ke Tu Baat Sunta Nahi

Kab Kahan Jata Hai
Jo Batata Nahi
Woh Bhi Pata Hai
Main Bas Kehti Nahi

Chehra Utra Hua
Ab Hasata Nahi
Kaisi Saza Hai
Main Bas Kehti Nahi

Aakhiri Baar
Kab Theek Se Ki Thi Baat
Isko Pucho Koyi
Manta Hi Nahi

Upar Se Banta Anjaan
Jaise Mujhko Toh Yeh
Jaanta Hi Nahi

Jhooth Se Khelne Ka Hai Shauk Bada
Khud Wadiyon Mein Tu Pahuch Gaya
Main Kisse Kahun
Tu Mere Sath Chalta Nahi

Tujhpe Zor Mera Ab Chalta Kahan
Mujhe Dar Hai Kahin Tu Chhod Gaya
Main Kisse Kahungi
Tu Mujhko Hi Samajhta Nahi

Kab Kuch Kehta Nahi
Kab Sab Keh Jata Hai
Yeh Bhi Pata Hai
Main Bas Kehti Nahi

Rishta Rutha Hua
Ab Manata Nahi
Kaisi Raza Hai
Main Bas Kehti Nahi

Aye Tujhe Kuch Pata Tere Bina
Kaisa Beeta Mera Pal Hai
Ek Hafte Se Teri Na Khabar
Bata Kahan Aaj-Kal Hai

Tu Mujhko Bhej Koi Jawaab
Mera Din Bann Jayega
Tu Khud Se Baat Karta Nahi
Kya Mera Phone Uthayega

O Tujhko Khelne Ka Hai Shauk Bada
Main Zakhm Dekhun Tu Karde Mana
Sab Dekh Rahe
Ke Tera Ghav Chhupta Nahi

Tujhpe Zor Mera Ab Chalta Kahan
Mujhe Dar Hai Kahi Tu Chhod Gaya
Main Kisse Kahungi
Tu Mujhko Hi Samajhta Nahi

Ab Bata Mujhko Yeh
Apni Choton Se Bhi Koyi Bacha Hai
Tu Bas Kehta Nahi

Dil Hai Toota Hua
Yeh Tujhe Bhi Pata
Mujhko Bula Le
Khud Sab Sehte Nahi

Kab Kahan Jata Hai
Jo Batata Nahi
Woh Bhi Pata Hai
Main Bas Kehti Nahi

Chehra Utra Hua
Ab Hasata Nahi
Kaisi Saza Hai
Main Bas Kehti Nahi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here